Raw Milk for Health: पोषक तत्वों से भरपूर है कच्चा दूध, फिर भी इसे पीना क्यों हानिकारक है?

Raw Milk for Health: दूध को कंप्लीट फूड कहा जाता है क्योंकि इसमें वे सभी पोषक तत्व होते हैं जिनकी हमारे शरीर को जरूरत होती है. कैल्शियम, प्रोटीन, मैग्नीशियम विटामिन और कई अन्य पोषक तत्व सिर्फ दूध में ही पाए जाते हैं इसलिए डॉक्टर भी दूध को अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह देते हैं। रोजाना एक गिलास दूध पीना बच्चों से लेकर बूढ़ों तक के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लेकिन अक्सर लोगों के मन में यह सवाल होता है कि कौन सा दूध पीना ज्यादा फायदेमंद होता है। यानी कुछ लोग कहते हैं कि उबला हुआ दूध ज्यादा फायदेमंद होता है और कुछ लोग कच्चा दूध फायदेमंद बताते हैं, ऐसे में इस दुविधा का समाधान जरूरी है।

विशेषज्ञों के अनुसार दूध कैल्शियम, पोटैशियम और विटामिन डी से भरपूर होता है, जो मिलकर हैप्पी हार्मोन पैदा करते हैं और रात को सोते समय दूध पीने से आपको बेहतर नींद आती है, यानी आपको अच्छी नींद आती है। दूध में तैलीय और ठंडक देने वाले गुण होते हैं।कच्चा दूध सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है लेकिन पचने में मुश्किल होता है। यही वजह है कि इसे पीने से पहले उबालने की सलाह दी जाती है ताकि पाचन तंत्र ठीक से काम करे और पोषक तत्व सभी अंगों तक पहुंचें।

एक्सपोर्ट्स का कहना है कि कच्चे दूध में कई अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जैसे ई. कोलाई बैक्टीरिया, लिस्टिरिया और साल्मोनेला, हालांकि आपको कच्चा दूध नहीं पीना चाहिए क्योंकि इसे पीने से उल्टी, दस्त और अन्य प्रकार की आंतों की समस्या हो सकती है, इसलिए उबला हुआ दूध पीना बेहतर होता है।

गर्भवती और बुजुर्ग लोगों को कच्चे दूध से पूरी तरह परहेज करने की सलाह दी जाती है, कमजोर इम्यून सिस्टम वालों को भी कच्चे दूध से पूरी तरह परहेज करना चाहिए।

 

 दूध पीने के फायदे

दूध हड्डी के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के साथ-साथ कोशिका और ऊतक पुनर्जनन में मदद करता है ताकि मस्तिष्क के स्वास्थ्य और समग्र कल्याण में सुधार हो सके। दूध के गुणों में दांतों की देखभाल भी शामिल है। इसमें कैल्शियम और फॉस्फोरस जैसे पोषक तत्व होते हैं जो दांतों की रक्षा करके उन्हें स्वस्थ रखते हैं। जो लोग रोजाना दूध पीते हैं उनमें स्ट्रोक का खतरा 7% कम होता है। इसके साथ ही दूध तनाव और डिप्रेशन से भी बचाता है।