Nose Bleeding : अगर आप खर्राटों की समस्या से हैं परेशान ,तो इस तरह से आपको तुरंत राहत मिलेगी

Nose Bleeding: गर्मियों में नाक से खून आने की समस्या आम हो जाती है। कई लोगों को यह समस्या ज्यादा होती है। यह समस्या ज्यादातर 3 से 10 साल के आयु वर्ग में देखी जाती है। कई बार यह समस्या बड़ों में भी देखी जा सकती है।

ब्लीडिंग के लिए कई समस्याएं जिम्मेदार हो सकती हैं, लेकिन सबसे बड़ा कारण शरीर का तापमान बढ़ जाने से मस्तिष्क तक गर्मी पहुंचना है। इसके अलावा गर्म चीजों के अधिक सेवन से भी नाक से खून आने लगता है।

नकसीर क्या है? – नाक से खून आने को चिकित्सकीय भाषा में एपिस्टेक्सिस कहा जाता है। नाक के पास एक जगह होती है, जिसमें रक्त की आपूर्ति अधिक होती है। जब यह हिस्सा घायल हो जाता है या रक्तचाप बढ़ जाता है, तो रक्त वाहिकाएं खुल जाती हैं, जिससे रक्त प्रवाहित होता है। हालांकि, लंबे समय तक ठंड के कारण नाक से खून आ सकता है।

बवासीर किन कारणों से होता है? – नकसीर के कई कारण हो सकते हैं। सबसे आम कारण मौसम में बदलाव है। इसके अलावा नाक में एलर्जी, किसी आंतरिक नसों या रक्त वाहिकाओं को नुकसान, अत्यधिक गर्मी, शरीर में पोषक तत्वों की कमी, साइनस, ब्लड प्रेशर, अत्यधिक छींक आना, ठंड लगना या नाक को अत्यधिक रगड़ना आदि भी इस समस्या का कारण बन सकते हैं। .

तुरंत राहत के लिए कोल्ड कंप्रेस लगाएं

 

  • एक बर्फ के टुकड़े को तौलिये में लपेट कर नाक पर रखें
  • बीच-बीच में तौलिए से नाक को धीरे से दबाएं
  • इसे 4-5 मिनट तक करना है

कोल्ड कंप्रेस कैसे फायदेमंद हैं? – बर्फ की ठंडक से खून बहना कम हो जाता है। जिससे खून बहना बंद हो जाता है। बस ध्यान रहे कि बर्फ को सीधे नाक पर न लगाएं।