Health Update: ज्यादा तेल वाला खाना खाने से महिलाओं को हो रही है पित्त की पथरी

पित्त पथरी एक आम समस्या है जो कई लोगों को प्रभावित करती है, विशेषकर महिलाओं को। यह पाया गया है कि उच्च तेल या उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से महिलाओं में पित्त पथरी विकसित होने का खतरा बढ़ सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि आहार में अतिरिक्त तेल या वसा के कारण पित्ताशय की थैली कम बार सिकुड़ सकती है, जिससे पथरी बन सकती है।

पित्त पथरी के गठन को रोकने के लिए, एक स्वस्थ आहार बनाए रखना महत्वपूर्ण है जो वसा और तेल में कम हो। इसमें भरपूर मात्रा में फल, सब्जियां, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन स्रोत जैसे चिकन, मछली और फलियां शामिल हैं। उच्च वसा और तैलीय खाद्य पदार्थ जैसे तले हुए खाद्य पदार्थ, प्रसंस्कृत स्नैक्स और वसायुक्त मांस के सेवन को सीमित करना भी महत्वपूर्ण है।

एक स्वस्थ आहार बनाए रखने के अलावा, नियमित व्यायाम और वजन प्रबंधन भी पित्त पथरी के गठन को रोकने में मदद कर सकता है। जिन महिलाओं को पित्त पथरी होने का अधिक खतरा होता है, जैसे कि जो अधिक वजन वाली हैं, गर्भवती हैं, या पित्त पथरी का पारिवारिक इतिहास है, उन्हें अपने जोखिम को कम करने के तरीकों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

यदि आप पेट में दर्द, मतली या उल्टी जैसे लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो तुरंत चिकित्सा की तलाश करना महत्वपूर्ण है क्योंकि ये पित्ताशय की थैली की समस्या के संकेत हो सकते हैं। प्रारंभिक निदान और उपचार जटिलताओं को रोकने और परिणामों में सुधार करने में मदद कर सकता है।