Health Tips: आवला की फायदेमंद रेसपी, एसिडिटी का है घरेलू इलाज

Health Tips:   नाराज़गी या नाराज़गी आज सबसे आम बीमारियां हैं। इस बीमारी से बचाव के लिए ज्यादातर लोग एलोपैथिक दवा का इस्तेमाल करते हैं । इससे कुछ देर के लिए आराम तो मिलता है, लेकिन अगले कुछ घंटों के बाद इन दवाओं की फिर से जरूरत पड़ जाती है, क्योंकि सूजन और एसिडिटी दोबारा होने लगती है। इस समस्या से बचने के लिए आंवला पाउडर एक घरेलू उपाय है। अब हम आपको इसका सेवन करने का आसान तरीका बताने जा रहे हैं।

परिणाम जल्द ही सामने आएंगे

सीने में जलन और पेट की गर्मी दोनों को दूर करने में आंवला पाउडर बहुत फायदेमंद होता है। यह आपकी जलन को तुरंत शांत करता है और आपको कुछ ही सेकंड में राहत देता है। आंवला एक ऐसा फल है जिसका इस्तेमाल साल के हर दिन और हर मौसम में किया जा सकता है। यह हमेशा शरीर को फायदा पहुंचाता है। आंवला शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने का काम करता है।

कैसे इस्तेमाल करे?

आंवला पाउडर का सेवन करने के लिए रात को सोने से पहले 1 चम्मच आंवला पाउडर को एक गिलास पानी में भिगो दें। सबसे पहले आप सुबह उठते ही इस पानी को छान लें और धीरे-धीरे पीएं। इस पानी को बिना एक घूंट में चाय की तरह धीरे-धीरे पिएं। ऐसा करने से आपको नाराज़गी कम करने और पेट को शांत करने में मदद मिलेगी।

इस प्रकार आंवला चूर्ण प्रतिदिन लेना चाहिए। आपकी नाराज़गी निश्चित रूप से कम हो जाएगी। साथ ही सुबह खाली पेट आंवले का पानी पीने से भी कई फायदे होते हैं जैसे कि,

  • शरीर स्वस्थ था।
  • पाचन क्रिया ठीक रहती है।
  • पेट में गैस नहीं होती है।
  • पूरे दिन शरीर में एनर्जी बनी रहती है।

याद रखें कि हर 15 या 21 दिन में इस तरीके को कुछ दिनों के लिए बंद कर दें और फिर आप इसे दोबारा ले सकते हैं। एक हफ्ते के आराम के बाद आप इसे फिर से लेना शुरू कर सकते हैं।