Thursday, February 22

 सफेद ब्रेड के लगातार सेवन से आपकी परेशानी बढ़ सकती है, जानिए कैसे

नाश्ता एक बहुत ही महत्वपूर्ण भोजन है – यह आपका दिन बना या बिगाड़ सकता है। फल, दूध, अंडे वाली ब्रेड भी ज्यादातर लोगों के लिए सबसे आसान विकल्प है। ब्रेकफास्ट में भी आप ब्रेड जरूर खा रहे होंगे, लेकिन क्या? सामान्य तौर पर हम सभी सफेद ब्रेड का अधिक सेवन करते हैं। कई लोग इसे मक्खन के साथ खाते हैं तो कुछ इसे आमलेट के साथ भी खाते हैं. लेकिन सावधान रहें, स्वास्थ्य विशेषज्ञ सफेद ब्रेड को स्वास्थ्य के लिए हानिकारक मानते हैं। सफेद ब्रेड के लगातार सेवन से आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि आटे का इस्तेमाल मुख्य रूप से रोटी बनाने के लिए किया जाता है, इसलिए इसके अधिक सेवन से पेट की कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा सफेद ब्रेड को पोषण की दृष्टि से भी अच्छा नहीं माना जाता है। इनमें उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट भी होते हैं, जो शरीर पर कई हानिकारक प्रभाव डाल सकते हैं। आइए जानते हैं क्यों विशेषज्ञ ब्रेड से परहेज करने की सलाह देते हैं।

ब्लड शुगर लेवल बढ़ा सकता है

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का सुझाव है कि सफेद ब्रेड के अत्यधिक सेवन से मधुमेह का खतरा बढ़ सकता है। सफेद ब्रेड जल्दी पच जाता है जो इसे जल्दी से ग्लूकोज में बदलने की अनुमति देता है और रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है। इसके अलावा इस प्रकार के आटे से बनी ब्रेड में भी कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है जो शुगर लेवल को तेजी से बढ़ाता है। डायबिटीज के मरीजों को सफेद की जगह ब्राउन या ग्रेन ब्रेड का सेवन करना चाहिए।