Thursday, February 22

ब्रेड, पिज्जा, बर्गर और बाकि फ़ास्ट फ़ूड खाने से बचे, शरीर को पहुंचते है बहुत नुकशान

नई दिल्ली: अगर आप भी ब्रेड, पिज्जा, बर्गर, पैकेज्ड पोटैटो चिप्स समेत अन्य जंक फूड के शौकीन हैं और इसका नियमित सेवन करते हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है, क्योंकि जंक फूड का नियमित सेवन आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, हमारे दैनिक आहार में कार्सिनोजेन्स और म्यूटाजेन जैसे हानिकारक पदार्थ होते हैं जो कैंसर जैसी बीमारियों का कारण बन सकते हैं।

पिज्जा-बर्गर खाना खतरनाक है दरअसल पिज्जा-बर्गर खाने से ब्लड ग्लूकोज लेवल अचानक से बढ़ जाता है, जिससे शरीर में ज्यादा इंसुलिन बनने लगता है। इससे शरीर में असामान्य कैंसर कोशिकाएं विकसित हो जाती हैं जो शरीर के लिए हानिकारक मानी जाती हैं। ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन आपको कम करना चाहिए।

किडनी और थायराइड हो सकता है।अगर आप लगातार पिज्जा बर्गर खाते हैं तो यह आपके लिए हानिकारक होगा क्योंकि बर्गर, पिज्जा ब्रेड जैसे खाद्य पदार्थों में हानिकारक केमिकल पोटैशियम होता है जिससे ब्रेड सफेद और मुलायम बनी रहती है। इस भोजन के अधिक सेवन से किडनी, थायराइड और कोलन कैंसर जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

इन खाद्य पदार्थों से भी रहें दूर

पैक्ड चिप्स भी सेहत के लिए अच्छे नहीं माने जाते हैं। पैक्ड चिप्स में फैट और सोडियम की मात्रा अधिक होती है। इसके साथ ही कृत्रिम रंग, फ्लेवर और प्रिजर्वेटिव भी मिलाए जाते हैं। इसका लगातार सेवन शरीर में कई बीमारियों को आमंत्रण देता है।

रिफाइंड तेलों का लगातार इस्तेमाल शरीर के लिए हानिकारक भी हो सकता है। शुद्ध तेल में ट्राइग्लिसराइड्स, पॉलीअनसेचुरेटेड यौगिक होते हैं। जिसे अम्ल से शुद्ध किया जाता है। इसलिए डॉक्टर कम से कम रिफाइंड तेल का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं।

शीतल पेय शीतल पेय खोलने पर जो झाग निकलता है वह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि फोम में मेथिग्लॉक्सल जैसे खाद्य रसायन होते हैं। सॉफ्ट ड्रिंक बनाते समय खाने के रंग भी मिलाए जाते हैं जिससे शरीर में कैंसर जैसी बीमारियां हो सकती हैं। इसलिए शीतल पेय का सेवन भी कम करना चाहिए।

आजकल बाजार में कई तरह के अचार उपलब्ध हैं। मसालेदार अचार सभी को पसंद होता है। लेकिन आपको बता दें कि मसालेदार अचार आमतौर पर नाइट्रेट, नमक और सिरके से बनाया जाता है। अचार में खाने के रंग भी डाले जाते हैं। ऐसे में अगर आप लगातार अचार का इस्तेमाल करते हैं तो यह आपकी परेशानी को बढ़ा सकता है.