Thursday, February 22

3 चुनावी राज्यों का दौरा तीन दिन में करेंगे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपने दूसरे दौर की प्रचार की शुरूआत 4 फरवरी से करेंगे। राहुल गोवा, उत्तराखंड और पंजाब का दौरा करेंगे और पार्टी के लिए प्रचार करेंगे। सबसे पहले राहुल गांधी 4 फरवरी को गोवा में अपने दूसरे चुनावी दौरे पर पहुंचेंगे। इससे पहले राहुल गांधी ने अक्टूबर में एक जनसभा को संबोधित किया था। हालांकि चुनाव की घोषणा होने के बाद देखें तो राहुल गांधी का ये पहला गोवा दौरा है। 4 फरवरी को राहुल अपनी गोवा यात्रा के दौरान, गांधी पर्यटन क्षेत्र के प्रतिनिधियों, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और अन्य लोगों के साथ बातचीत करेंगे। इसके अलावा राज्य में 14 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं की बैठकों को संबोधित करेंगे और कांग्रेस उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करेंगे।

गोवा के बाद राहुल गांधी 5 फरवरी को उत्तराखंड दौरे पर रहेंगे। 14 फरवरी को उत्तराखंड में मतदान होना है। इस दौरे के दौरान राहुल गढ़वाल और कुमाऊं दोनों ही जगहों पर पार्टी के प्रचार के लिए पहुंचेंगे। उत्तराखंड में राहुल गांधी का ये दूसरा दौरा होगा। इससे पहले उन्होंने देहरादून के परेड ग्राउंड में चुनावी रैली को संबोधित किया था। हालांकि तब निर्वाचन आयोग ने चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं थी। पार्टी के अनुसार राहुल गांधी इसी दौरान हरिद्वार के लोगों से भी वर्चुअल माध्यम से जुड़ेंगे।

उत्तराखंड के बाद राहुल गांधी 6 फरवरी को पंजाब के दौरे पर रहेंगे। उम्मीद लगाई जा रही है कि इस दौरान राहुल पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे की घोषणा कर सकते हैं। इससे पहले राहुल गांधी ने 27 जनवरी को अपने पिछले पंजाब के दौरे के दौरान घोषणा की थी कि कांग्रेस पार्टी जल्द ही पंजाब विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री चेहरे के साथ उतरेगी। उन्होंने कहा था कि इस पर फैसला पार्टी कार्यकर्ताओं से सलाह के बाद लिया जाएगा।

हालांकि कांग्रेस में सीएम पद को लेकर इस समय पंजाब में घमासान मचा हुआ है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, सुनील जाखड़ और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बीच गहमागहमी का माहौल है। यहां तक कि मुख्यमंत्री पद के चेहरे के इंतजार में सिद्धू चुनाव प्रचार छोड़ वैष्णो देवी चले गये गए हैं।

इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ विचार-विमर्श किया है। सूत्रों के अनुसार पार्टी अपने शक्ति ऐप के जरिए कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं की मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर प्रतिक्रिया ले रही है। पार्टी ने इस मुद्दे पर आम लोगों की राय भी मांगी है और यह प्रक्रिया पिछले दो दिनों में शुरू हो गई है।