होटल की पांचवी मंजिल से रहस्यमय परिस्थितियों में गिर कर युवक की मौत

हुसैनगंज इलाके में एक शख्स होटल की पांचवी मंजिल से रहस्यमय परिस्थितियों में गिर गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक 50 वर्षीय मेराज अहमद होटल मालिक के ड्राइवर के रूप में कार्यरत था और पिछले 30 वर्षों से वहां काम कर रहा था। जिस होटल में वह अकेले रहते थे, उसकी चौथी मंजिल पर उसे स्टाफ क्वार्टर में एक कमरा आवंटित किया गया था।

अतिरिक्त सीपी हजरतगंज, अखिलेश सिंह ने कहा कि पुलिस को अभी यह पता नहीं चल पाया है कि अहमद ने आत्महत्या की या गलती से गिर गया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि उन्होंने शनिवार शाम को होटल के परिसर में शोर सुना और अहमद को खून से लथपथ पाया।

होटल के कर्मचारियों ने पुलिस को सूचित किया और अहमद को एसपीएम सिविल अस्पताल ले गए जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

सिंह ने कहा कि हमें बताया गया कि इन 30 वर्षों में अहमद के परिवार से कोई भी उनसे मिलने नहीं गया। वह कभी-कभी छुट्टी लेकर घर जाता था। अन्य स्टाफ सदस्यों के साथ उसकी बातचीत सीमित थी। इसलिए, कोई भी उसकी मानसिक स्थिति के बारे में सूचित करने में सक्षम नहीं था।

पुलिस अधिकारी ने आगे कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और हम परिवार के सदस्यों के आने का इंतजार कर रहे हैं। हम शव उन्हें सौंप देंगे। हम होटल के कर्मचारियों से पूछताछ कर रहे हैं। फोरेंसिक टीम ने मौके से सबूत एकत्र किए हैं।