सूडान हिंसा में 420 की मौत, भारतीयों को बचाने के लिए वायुसेना के विमान तैनात

जेद्दाह: सूडान में फंसे भारतीयों को वापस लाने की पूरी तैयारी कर ली गई है. इसके लिए सेना के 2 विमान और नौसेना का एक जहाज तैनात किया गया है। सूडान में इस समय भीषण हिंसा भड़की हुई है। जिससे वहां रह रहे कई भारतीय फंस गए हैं। ऐसे में उन्हें बचाने के लिए ऑपरेशन चलाया गया है. जिसके एक हिस्से के रूप में जहाजों और विमानों को तैनात किया गया है।

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सूडान से भारतीयों को सुरक्षित निकालने के लिए आपात योजना तैयार की गई है. सूडान की राजधानी खार्तूम में कई जगहों से भीषण हिंसा की खबरें आईं। जिसके बाद सूडान में सुरक्षा की स्थिति असामान्य हो गई. विदेश मंत्रालय ने कहा कि सूडान में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए भारत की ओर से सभी प्रयास किए जा रहे हैं. 

मंत्रालय ने आगे कहा है कि भारत फ़िलहाल सूडानी और अपने अधिकारियों के संपर्क में है. सूडानी विदेश मंत्रालय, भारतीय दूतावास, सूडानी अधिकारियों के साथ-साथ संयुक्त राष्ट्र, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, मिस्र और संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ नियमित संपर्क में। फिलहाल भारतीय वायुसेना के दो सी-130जे विमान जेद्दाह के लिए उड़ान भरने के लिए तैयार रखे गए हैं। जबकि आईएनएस सुमेधा पोर्ट सूडान पहुंच गया है। इस जहाज की मदद से जो भारतीय सुरक्षित वापस लौटना चाहते हैं, उन्हें लाने का प्रयास किया जा रहा है. फिलहाल चार अन्य देशों से भी संपर्क किया जा रहा है। सूडान में सेना और विपक्ष के बीच हुई हिंसा में अब तक 400 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. और तीन हजार से ज्यादा लोग घायल हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कार्रवाई की जा रही है कि भारतीय शिकार न बनें। सूडान में सूडान सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक रैपिड सपोर्ट फोर्स (आरएसएफ) के बीच हिंसा भड़क उठी है।