सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वाले 54 और चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा सकती है सरकार: सूत्र

नई दिल्ली: भारत ने देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वाले 54 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने की योजना बनाई है, सरकारी सूत्रों ने आज यह जानकारी दी।
जिन ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया जाएगा उनमें शामिल हैं- स्वीट सेल्फी एचडी, ब्यूटी कैमरा- सेल्फी कैमरा, वाइवा वीडियो एडिटर, टेनसेंट एक्सरिवर, ओनमोजी एरिना, ऐपलॉक और डुअल स्पेस लाइट।

पिछले साल जून में, भारत ने देश की संप्रभुता और सुरक्षा के लिए खतरे का हवाला देते हुए व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे कि टिकटॉक, वीचैट और हेलो सहित 59 चीनी मोबाइल एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया था।

मई 2020 में चीन के साथ सीमा पर तनाव के बाद से भारत में लगभग 300 ऐप्स को ब्लॉक कर दिया गया है।

पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के मारे जाने के कुछ दिनों बाद जून 2020 में प्रतिबंधों के पहले दौर की घोषणा की गई थी।
पैंगोंग झील क्षेत्रों में हिंसक झड़प के बाद 5 मई, 2020 को भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख सीमा गतिरोध शुरू हो गया और दोनों पक्षों ने धीरे-धीरे हजारों सैनिकों के साथ-साथ भारी हथियारों से अपनी तैनाती बढ़ा दी।

उसी साल 15 जून को गालवान घाटी में एक घातक झड़प के बाद तनाव बढ़ गया था।