Thursday, February 22

सर्दियों में हो सकती है गले के इन्फेक्शन की समस्या, जानिए इससे निजात पाने का सबसे अच्छा तरीका कौन सा है?

सर्दियों में अक्सर खांसी, जुकाम, बुखार जैसी समस्या हो जाती है। लेकिन आजकल लोगों को रोजमर्रा की जिंदगी की छोटी-छोटी समस्याओं से भी परेशान होना पड़ता है। सर्दी हो या गर्मी, सर्दी हो या बुखार, साथ में मुंह के छाले भी पीछे नहीं छोड़ते।

सर्दियों में अक्सर देखा जाता है कि लोगों को मुंह के छाले हो जाते हैं जिसके कारण वे न तो ठीक से खा पाते हैं और न ही ठीक से पी पाते हैं। फिर बाजार जाकर हर तरह की दवाओं का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि दवाएं जल्दी राहत नहीं देंगी, कुछ समय के लिए छाले ठीक हो जाएंगे। अक्सर मुंह में छाले की समस्या दिखने में छोटी लगती है, लेकिन जलन के दर्द के कारण हमारे खान-पान पर इसका गहरा असर पड़ता है। कुछ गलत खाने से पेट की गर्मी के कारण मुंह में छाले हो जाते हैं, तो आइए हम आपको बताते हैं कुछ घरेलू उपाय जिन्हें अपनाकर आप मुंह के छालों से तुरंत छुटकारा पा सकते हैं।

गले में खराश है खांसी से है परेशान तो इन उपायों से गले के संक्रमण में मिलेगी राहत
दही का प्रयोग करें
मुंह की हरकतों से छुटकारा पाने के लिए दही बहुत फायदेमंद होता है। दही में शीतलन प्रभाव होता है, जो पेट की गर्मी को कम करने का काम करता है। जब भी आपके मुंह में छाले हो जाएं तो आप 1 कटोरी दही खा सकते हैं। एलोवेरा में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। एलोवेरा के ताजे गूदे से बना रस पीने से मुंह के छालों से राहत मिलती है।

लौंग का तेल
लौंग का एंटी-बैक्टीरियल गुण मुंह के छालों पर फोलिक एसिड बहुत कारगर होता है। इसके लिए लौंग को पीसकर गरम तेल में मिला लें। अब तेल के ठंडा होने पर रुई की मदद से इसे फफोले पर हल्के से लगाएं। छाला ठीक हो जाएगा।

तुलसी के पत्ते
तुलसी के पत्तों में कई औषधीय तत्व पाए जाते हैं। वहीं, एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होने के कारण यह मुंह के छालों को खत्म करने में काफी कारगर है। इसके लिए तुलसी के पत्तों को दिन में 2-3 बार धोकर कुछ देर मुंह में रखें और फिर चबाएं। मुंह के छालों से निजात मिलेगी।

पैन के साथ पीतल
पीतल को आप पान के साथ भी खा सकते हैं. पीतल आपको किसी भी दुकान या पान की दुकान में मिल जाएगा। यह एक पीपर की तरह है। ऊपर से दोनों खाने से अल्सर में आराम मिलेगा।