श्राद्ध केस में आरोपी आफताब के खिलाफ दिल्ली की साकेत कोर्ट आज फैसला सुनाएगी

श्रद्धा वॉकर हत्याकांड में दिल्ली की साकेत कोर्ट आज फैसला सुनाएगी। इस मामले में मुख्य आरोपी आफताब पूनावाला के खिलाफ आरोप तय करने पर कोर्ट ने 15 अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. इसके साथ ही श्रद्धा के पिता विकास के शव सौंपने को लेकर दिल्ली पुलिस कोर्ट में जवाब दाखिल करेगी.

श्रद्धा मर्डर केस

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश मनीषा खुराना कक्कड़ ने दलीलें सुनने के बाद 15 अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. जांच एजेंसी ने वाकर के पिता के आवेदन पर जवाब देने के लिए 15 अप्रैल तक का समय मांगा था। दिल्ली पुलिस ने चार जनवरी को इस मामले में 6,629 पेज की चार्जशीट दाखिल की थी. पिछले साल 18 मई को कथित तौर पर श्रद्धा की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी।

श्रद्धा मर्डर केस

इस बीच श्रद्धा के पिता विकास मदन वॉकर ने कोर्ट में अपील की और कहा कि श्रद्धा का शव उन्हें सौंप दिया जाए, ताकि वह अपनी बेटी का अंतिम संस्कार कर सकें. इस पर विशेष लोक अभियोजक अमित प्रसाद ने कहा कि श्रद्धा के पिता की अर्जी पर दिल्ली पुलिस सुनवाई की अगली तारीख को जवाब दाखिल करेगी. विकास ने न्याय मिलने तक श्रद्धा का अंतिम संस्कार नहीं करने की शपथ ली थी। श्रद्धा के पिता विकास ने कहा था कि आफताब को फांसी की सजा मिलने के बाद ही मैं श्रद्धा का अंतिम संस्कार करूंगा.

 

आरोपी आफताब पूनावाला के खिलाफ धारा 302 व 201 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पूनावाला के वकील ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए तर्क दिया कि अभियुक्त को दोनों अपराधों के लिए दोषी नहीं ठहराया जा सकता है और दो ‘वैकल्पिक आरोपों’ को एक साथ नहीं जोड़ा जा सकता है। विशेष लोक अभियोजक अमित प्रसाद ने इन तर्कों का पुरजोर खंडन किया और कहा कि मामला फिलहाल आरोप तय करने के चरण में है और दोनों अपराधों के लिए आरोप तय करने पर कोई रोक नहीं है।