शेयर बाजार: सेंसेक्स 100 पॉइंट्स गिरकर 57 हजार तक पंहुचा, टेक शेयर्स में देखी गयी गिरावट

शेयर बाजार में हफ्ते के आखिरी दिन आज भारी गिरावट है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 100 पॉइंट्स गिर कर 57,728 पर कारोबार कर रहा है।

404 अंक नीचे खुला था सेंसेक्स

सेंसेक्स आज 404 पॉइंट्स नीचे 57,488 पर खुला था। पहले घंटे में इसने 57,793 का ऊपरी और 57,488 का निचला स्तर बनाया। इसके 30 शेयर्स में से 9 बढ़त में और 21 गिरावट में हैं। बढ़ने वाले प्रमुख स्टॉक में मारुति, NTPC, टाटा स्टील, लार्सन एंड टुब्रो, पावरग्रिड, HDFC, रिलायंस इंडस्ट्रीज और अल्ट्राटेक सीमेंट हैं।

टेक महिंद्रा और विप्रो नीचे

गिरनेवाले प्रमुख शेयर्स में विप्रो, टेक महिंद्रा, HDFC बैंक, HCL टेक, इंफोसिस और बजाज फाइनेंस 1-1% तक गिरे हैं। नेस्ले, TCS, एक्सिस बैंक, बजाज फिनसर्व, सनफार्मा, डॉ. रेड्‌डी, ICICI बैंक और एशियन पेंट्स भी नीचे हैं। एयरटेल, SBI, इंडसइंड बैंक में मामूली गिरावट है।

117 शेयर्स अपर सर्किट में

सेंसेक्स में लिस्टेड कंपनियों में 117 के शेयर्स अपर और 157 के लोअर सर्किट में हैं। इसका मतलब एक दिन में इनकी कीमतों में एक तय सीमा से ज्यादा का उतार-चढ़ाव नहीं हो सकता है। लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 261.58 लाख करोड़ रुपए है जो कल 261.72 लाख करोड़ रुपए था।

उधर, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 48 अंक नीचे 17,274 पर कारोबार कर रहा है। यह 17,236 पर खुला था और 17,219 का निचला तथा 17,285 का ऊपरी स्तर बनाया। इसके मिडकैप इंडेक्स में तेजी है। बैंक, फाइनेंशियल और नेक्स्ट 50 इंडेक्स गिरावट में हैं।

24 शेयर्स बढ़त में

निफ्टी के 50 शेयर्स में से 24 बढ़त में और 26 नीचे कारोबार कर रहे हैँ। बढ़ने वाले प्रमुख शेयर्स में कोल इंडिया, UPL, मारुति, NTPC और महिंद्रा एंड महिंद्रा हैं। गिरने वालों में सिप्ला, विप्रो, नेस्ले, HDFC बैंक और अल्ट्राटेक सीमेंट हैं। इससे पहले गुरुवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 104 पॉइंट्स गिर कर 57,892 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 17 अंक नीचे 17,304 पर बंद हुआ।

अमेरिकी बाजार में गिरावट

यूक्रेन और रूस के बीच हालात खराब होने से गुरुवार को अमेरिका का डाऊ जोन्स एक्सचेंज 1.78% गिरकर 34,312 पर आ गया। S&P 2.12% की गिरावट के साथ 4,380 पर बंद हुआ। जबकि नैस्डैक कंपोजिट इंडेक्स 2.88% फिसलकर 13,716 पर पहुंच गया। डाऊजोंस में 30 नवंबर 2021 के बाद सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई, वहीं नैस्डैक 3 फरवरी के बाद पहली बार इतने नीचे पहुंचा है।