वास्तु : ये 10 पौधे लाएंगे घर में सौभाग्य, जानिए क्यों, यहां पढ़ें सब कुछ विस्तार से

पौधों के लिए वास्तु टिप्स: वास्तु के अनुसार हम अपने घर में कई तरह के पेड़ या पौधे लगाते हैं, जो जन्म कुंडली के ग्रहों के अनुकूल और प्रतिकूल दोनों हो सकते हैं।

कुछ ऐसे पेड़ या पौधे हैं, जो हमेशा से केवल और केवल शारीरिक, मानसिक, सामाजिक और आर्थिक दृष्टि से ही मानव जाति के लिए फायदेमंद रहे हैं। आज हम जानेंगे कि वास्तु के अनुसार हम घर में कौन से पौधे लगा सकते हैं, जो हमें केवल अनुकूल और भाग्यशाली प्रभाव देते हैं।

वास्तु का पौधा हमें घर में कहां रखना चाहिए
तुलसी
के पौधे का सनातन धर्म में बहुत महत्व है। अगर आपके घर में किसी भी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा है तो इस पौधे में उसे खत्म करने की शक्ति है क्योंकि तुलसी को श्री हरिप्रिया कहा गया है और श्री हरि तुलसी के चरणों में निवास करते हैं और तुलसी के औषधीय गुण आपको स्वस्थ रखते हैं।

कृष्णकांत
कृष्णकांता यह एक प्रकार की बेल है, जिसमें सुंदर नीले फूल होते हैं। इस बेल को देवी लक्ष्मी का रूप भी माना जाता है और इसे लगाने से आर्थिक समस्या भी समाप्त हो जाती है।

हल्दी
हल्दी का पौधा लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है इसलिए घर में हल्दी का पौधा अवश्य लगाना चाहिए और जिस घर में हल्दी लगाई जाती है वहां घर में क्लेश की संभावना कम होती है।

अश्वगंधा
में कई औषधीय गुण भी होते हैं, जिनके कई फायदे होते हैं। वास्तु विज्ञान के अनुसार अश्वगंधा का पौधा घर के अंदर लगाना शुभ और वास्तु दोष निवारक होता है। अश्वगंधा का पौधा घर में लगाने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

अनार
घर के आंगन में अनार का पेड़ लगाना शुभ माना जाता है, लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि इसे घर के आग्नेय कोण या दक्षिण-पश्चिम दिशा में नहीं लगाना चाहिए। कुछ जगहों पर अनार का पेड़ घर में होना अशुभ माना जाता है।

 

बेलगिरी
घर के चारों ओर बेलगिरी का पेड़ लगाना भी शुभ माना जाता है। धार्मिक मान्यता है कि इस वृक्ष में भगवान शंकर का वास होता है। और इसके शीतलन प्रभाव के कारण इसमें कई औषधीय गुण भी होते हैं।

ब्लैकबेरी
वास्तु विज्ञान के अनुसार घर के दक्षिण दिशा में जामुन का पेड़ लगाना शुभ होता है। जामुन का पेड़ घर की दूसरी दिशा में नहीं लगाना चाहिए। जिस घर पर शनि का प्रभाव अधिक होता है उस घर को नियंत्रित करने के लिए जामुन का पेड़ भी लगाया जाता है।

बरगद
वास्तु विज्ञान के अनुसार बरगद एक बहुत ही लाभकारी पेड़ है, जो केवल 80% ऑक्सीजन छोड़ता है। यदि किसी घर या भवन की पूर्व दिशा में बरगद का पेड़ हो तो यह बहुत शुभ माना जाता है। घर की पश्चिम दिशा में बरगद का पेड़ लगाना अशुभ होता है।

अशोक
वास्तु विज्ञान के अनुसार घर के पास अशोक का पेड़ लगाना बहुत फायदेमंद होता है। जिन घरों में बंद सड़क होने का दोष होता है वहां अशोक के पेड़ हमेशा विषम संख्या में लगाने चाहिए, जिससे बंद सड़क के दोष का प्रभाव कम हो जाता है।

नारियल
वास्तु विज्ञान में बताया गया है कि नारियल का जो पेड़ घर के अंदर लगाया जाता है वह बहुत फायदेमंद होता है। इस वृक्ष की उपस्थिति से परिवार के लोगों के मान-सम्मान में वृद्धि होती है। जिन घरों में चंद्र दोष होता है, वहां की मानसिकता में सकारात्मक वृद्धि का कार्य नारियल के पेड़ का कार्य अवश्य ही करता है।

इसके साथ ही लोगों के ग्रहों की अनुकूलता के अनुसार अलग-अलग दिशाओं में पौधे और पेड़ लगाने से समान प्रभाव पड़ता है। जो लोग किसी प्रबुद्ध ज्योतिषी से सलाह लेते हैं, क्योंकि ग्रहों की पूरी जानकारी के बिना वास्तु पूर्ण नहीं हो सकता क्योंकि वास्तु विज्ञान जो कि ज्योतिष की एक छोटी सी शाखा है जो भवनों के निर्माण से संबंधित है।