रूस-यूक्रेन तनाव: ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन ने 5 रूसी बैंकों और 3 व्यवसायियों पर प्रतिबंधों की घोषणा की

रूस और यूक्रेन विवाद बढ़ रहा है। इसी बीच ब्रिटेन के पीएम बोरिस जोन्स आज एक बड़ा ऐलान कर रहे हैं। समाचार एजेंसी एएफपी के एक ट्वीट के मुताबिक, यूके के पीएम बोरिस जॉनसन ने पांच रूसी बैंकों के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा की है। उन्होंने मास्को में सैनिकों की तैनाती के साथ यह कदम उठाया है।

ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को सुरक्षा प्रमुख के साथ सुबह की बैठक के बाद संसद में रूस के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों के पहले दौर का वादा किया। “इन (प्रतिबंधों) का रूस पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ेगा और हमले की स्थिति में हमारे पास करने के लिए बहुत कुछ है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि अगर रूसी कंपनियों को यूके के बाजार से पूंजी जुटाने से रोक दिया जाता है तो इसे नुकसान होगा।” पीएम जोन्स ने संवाददाताओं से कहा।

यूक्रेन पर आक्रमण करने का इरादा रखता है पुतिन

ब्रिटिश पीएम ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति पुतिन यूक्रेन पर पूर्ण पैमाने पर आक्रमण शुरू करने का इरादा रखते हैं। ऐसा कदम विनाशकारी होगा। इसे किसी अन्य यूरोपीय देश को जीतने की कोशिश में सफल नहीं होना चाहिए।

UNSC में भारत ने क्या कहा?

यूक्रेन पर यूएनएससी की बैठक में भारत ने कहा कि सभी पक्षों के लिए बेहद संयम के साथ इस मुद्दे को सुलझाना जरूरी है। हम जल्द से जल्द समाधान सुनिश्चित करने के लिए राजनयिक प्रयासों को तेज करने के लिए अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बनाए रखने की महत्वपूर्ण आवश्यकता पर जोर देते हैं। यूक्रेन में बढ़ते तनाव के बीच संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस थिरुमूर्ति ने यूएनएससी की बैठक में कहा कि भारत के नागरिकों की सुरक्षा सर्वोपरि है। 20,000 से अधिक भारतीय छात्र और नागरिक यूक्रेन और उसके सीमावर्ती क्षेत्रों के विभिन्न हिस्सों में रहते हैं और अध्ययन करते हैं। उन भारतीयों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है।

यूक्रेन किसी से नहीं डरता

राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन “किसी से नहीं डरता।” रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पूर्वी यूक्रेन के अलगाववादी क्षेत्रों की स्वतंत्रता की मान्यता में अपने सैनिकों की तैनाती का आदेश दिया है।