Thursday, February 22

ये 5 चीजें इम्युनिटी पावर बढ़ाने में मदद करेगी

देश में कोरोना की तीसरी लहर अपने चरम पर पहुंच गई है. इस बीच जानकारों का कहना है कि कोरोना की ये लहर आखिरी नहीं है. भविष्य में कोरोना की ऐसी लहर आ सकती है। ऐसे मुश्किल समय में सिर्फ आपका इम्यून सिस्टम ही आपको इस महामारी से बचा सकता है।

डॉक्टरों के मुताबिक सिर्फ एक दिन में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत नहीं किया जा सकता है। इसके लिए जीवनशैली में बदलाव, खान-पान में बदलाव और योग की जरूरत है। इस दौरान आप अपने इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए इन 5 खास तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

च्युइंग गम को गर्म पानी के साथ खाएं

माना जाता है कि च्युइंग गम खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। च्युइंग गम बनाने के लिए विभिन्न जड़ी-बूटियों का उपयोग किया जाता है। तो आप रात को सोने से पहले च्यवनप्राश का सेवन हल्दी वाले दूध के साथ कर सकते हैं। आप च्यवनप्राश को गर्म पानी में मिलाकर भी पी सकते हैं। ये इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में मदद करता है।

हर्बल टी

बहुत से लोग चाय पीना पसंद करते हैं। चाय की पत्तियों में कैफीन होता है, जो शरीर के लिए हानिकारक होता है। ऐसे में अगर आप चाय के विकल्प के तौर पर हर्बल टी पी सकते हैं। हर्बल चाय बनाने के लिए विभिन्न जड़ी-बूटियों और मसालों का उपयोग किया जाता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो सूजन, सर्दी और फ्लू से राहत दिलाते हैं।

शाम को हल्दी वाला दूध पिएं

हल्दी में कई औषधीय गुण होते हैं। किसी भी प्रकार की चोट लगने पर हल्दी वाला दूध पीने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि हल्दी में मौजूद तत्व घावों को तेजी से भरने का काम करते हैं। ये तत्व शरीर में प्रवेश कर चुके वायरस को मारने का भी काम करते हैं। इसलिए रोज रात को एक गिलास दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।

फेफड़ों की सेहत के लिए करें योग

कोई भी वायरस सबसे पहले फेफड़ों पर हमला करता है। इससे श्वसन तंत्र काम करना बंद कर देता है। इसलिए आपको अपने फेफड़ों की कार्यक्षमता को मजबूत करने के लिए नियमित रूप से प्राणायाम, कपालभाति या भस्त्रिका प्राणायाम करने की आवश्यकता है।

2 बूंद घी नाक में डालें

इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए नेज़ल थेरेपी एक बेहतरीन तरीका है। नाक में नारियल के तेल, तिल के तेल या घी की कुछ बूंदों को इंजेक्ट किया जाता है। यह कोरोना जैसे वायरस को नाक के जरिए शरीर में प्रवेश करने से रोकने में मदद करता है। 2 बूंद घी या तेल नाक में डालने के बाद कुछ मिनट के लिए सोएं। यह थेरेपी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है।