मनप्रीत सिंह को दोषी करार दिया गया

: हरियाणा के कुंडली में कृषि विरोधी कानून आंदोलन के दौरान एक युवक पर तलवार से जानलेवा हमला करने के मामले में आरोपी निहंग मनप्रीत सिंह को दोषी करार दिया गया है. अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय पाराशर की अदालत ने आरोपी को दस साल कैद और 15 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है. जुर्माना नहीं भरने पर नौ माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

 

कुंडली गांव के शेखर टीडीआई मॉल में खरीदारी करते थे। 12 अप्रैल 2021 को दोपहर एक बजे वह घर से अपने दोस्त सनी के साथ बाइक से कुंडली स्थित टीडीआई मॉल जा रहा था। कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शनकारी कुंडली बॉर्डर से कुश्या गांव तक सड़क पर टेंट में बैठे थे, बाइक सनी चला रहा था. वे विरोध कर रहे लोगों के तंबू के पास से निकल रहे थे।

 

वहां कुछ निहंगों की पुलिसकर्मियों से बहस हो रही थी. इस वजह से रास्ता बंद कर दिया गया। इसी दौरान सनी ने बैंक से बाइक खींचने की कोशिश की। इस पर उनमें तीखी नोकझोंक हो गई। निहंग के हाथ में तलवार थी और उसने गुस्से में युवक के सिर पर हमला कर दिया, शेखर और सनी भागने के प्रयास में बाइक लेकर वहां से भाग गए। वहीं, बाद में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी की पहचान अमृतसर के सुल्तानविंड गांव निवासी मनप्रीत के रूप में हुई है। वह फिलहाल दिल्ली के गोबिंदपुरी में रह रहा था, जहां से पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर ल