ब्रिटेन में भारतीयों समेत 60 अवैध फूड डिलीवरी ड्राइवर गिरफ्तार

ब्रिटेन में एक फूड डिलीवरी कंपनी के लिए अवैध रूप से काम करने के आरोप में 60 मोपेड डिलीवरी ड्राइवरों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार लोगों में बड़ी संख्या में भारतीय भी हैं। गौरतलब है कि ब्रिटेन में पिछले एक हफ्ते से अवैध यात्रा के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है.

गिरफ्तार डिलीवरी ड्राइवरों में भारतीयों के अलावा ब्राजील और अल्जीरिया के नागरिक भी शामिल हैं। उन्हें अन्य अपराधों के अलावा अवैध काम करने और जाली दस्तावेज रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

ब्रिटेन के गृह कार्यालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, भारतीय अब छोटी नावों में अवैध रूप से इंग्लिश चैनल पार करने वाले दूसरे सबसे बड़े समूह हैं। जनवरी से मार्च तक 675 पकड़े गए हैं।

गृह मामलों की मंत्री सुएला ब्रेवरमैन ने कहा है कि अवैध कर्मचारी हमारे समुदायों को नुकसान पहुंचाते हैं। ईमानदार कर्मचारियों की नौकरी चली जाती है और सरकारी खजाने को भी नुकसान होता है।

भारतीय मूल के मंत्री ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने कहा है कि हम अपने कानूनों और सीमाओं के दुरुपयोग को रोकने के लिए तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

बेवरमैन ने कहा कि ब्रिटिश जनता एक ऐसे श्रम बाजार की हकदार है जो निष्पक्ष और ईमानदार हो और उन्हें विश्वास होना चाहिए कि वे जो सामान खरीदते हैं वह वैध व्यवसायों से है।

होम ऑफिस के आंकड़ों के अनुसार, 1 जनवरी , 2023 से 31 मार्च , 2023 तक छोटी नाव से अवैध रूप से ब्रिटेन में प्रवेश करने वालों में सबसे अधिक 909 (24 प्रतिशत) अफगान नागरिक थे। तब भारतीय 675 (18 फीसदी) के साथ दूसरे नंबर पर थे।