बारिश ने खोल दी अधूरे बुंदेलखंड एक्स्प्रेसवे की पोल

: उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में बना एक्सप्रेस-वे इस समय चर्चा में है क्योंकि इस एक्सप्रेस-वे का एक हिस्सा लॉन्च होने के 5 दिनों के भीतर ही बह गया था. खास बात यह है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का निर्माण अरबों रुपये की लागत से किया गया है। एक्सप्रेसवे का उद्घाटन 16 जुलाई को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जालौन जिले के कैथेरी में आयोजित एक समारोह में किया था।

चिरिया सलेमपुर के पास बह गई ये सड़क :
बीते बुधवार की रात भारी बारिश के कारण बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का कुछ हिस्सा बहकर जमीन में गिर गया. एक्सप्रेस-वे के KM 195 के पास चिरिया सलेमपुर के पास सड़क बह गई है. इस सड़क में गड्ढे होने से दो कारों और एक बाइक की भिड़ंत भी हो गई। गौरतलब है कि यह बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे चित्रकूट के भरतकूप से शुरू होकर इटावा के कुदारेल तक जाता है। फिर इस एक्सप्रेस-वे के शुरू होने के 5 दिन के अंदर ही इसकी गुणवत्ता के सबूत सामने आ गए हैं.

समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया वीडियो:
बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे रोड बारिश में बह जाने के बाद उत्तर प्रदेश की विपक्षी समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया। समाजवादी पार्टी ने लिखा है कि बारिश ने अधुरा बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के पोल खोल दिए हैं. अधूरे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को बुंदेलखंड की सौगात बताकर बीजेपी सरकार जनता को गुमराह कर रही है. इसके साथ ही वीडियो में एक्सप्रेस-वे की मरम्मत करने वाले बुलडोजर को शेयर किया गया है। वीडियो में दिख रहा है कि सड़क के बह जाने के बाद उसकी मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है.