फिल्म ‘पृथ्वीराज’ के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई से दिल्ली हाईकोर्ट का इनकार

दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को अक्षय कुमार और मानुषी छिल्लर को राहत दी और उनकी आगामी फिल्म ‘पृथ्वीराज’ के शीर्षक में बदलाव की मांग वाली एक जनहित याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया।

यशराज फिल्म्स के बैनर तले बनी यह फिल्म इसी साल 10 जून को रिलीज होने वाली है। याचिकाकर्ता की ओर से पेश अधिवक्ता संजीव बेनीवाल ने तर्क दिया कि फिल्म “महान योद्धा” पर आधारित थी। हालांकि उनके नाम से यह संकेत नहीं मिलता, लेकिन जनहित याचिका में तर्क दिया गया कि पृथ्वीराज को एक साधारण सी उपाधि देकर जिम्मेदार लोग महान सम्राट की छवि खराब कर रहे हैं। इस प्रकार, फिल्म के शीर्षक को बदलने और फिल्म में कुछ सम्मानजनक उपसर्गों को शामिल करने के निर्देश मांगे गए थे।

याचिकाकर्ता ने तर्क दिया कि फिल्म का वर्तमान शीर्षक सिनेमैटोग्राफ अधिनियम, 1952 की धारा 5 बी का उल्लंघन करता है। मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति नीना बंसल कृष्णा की पीठ ने याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया और अधिवक्ता ने याचिका वापस लेने की अनुमति मांगी. इस पर पीठ ने अपने फैसले में कहा कि मामला वापस लिया जाता है और तदनुसार निपटारा किया जाता है।