प्रवीण कुमार के निधन पर एएफआई ने जताया दुख

नई दिल्ली, 8 फरवरी | भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने मंगलवार को एशियाई खेलों के पदक विजेता हैमर और डिस्कस थ्रोअर प्रवीण कुमार सोबती के 74 वर्ष की आयु में निधन पर गहरा दुख जताया है। सोबती (जो बीआर चोपड़ा के प्रतिष्ठित टेलीविजन धारावाहिक ‘महाभारत’ में पांडव बलवान भीम की भूमिका निभाई थी) ने 1966 और 1970 के बैंकाक में आयोजित एशियाई खेलों में लगातार स्वर्ण पदक जीते, इसके अलावा 1966 के खेलों में हैमर में कांस्य पदक जीता था।

उन्होंने 1974 में तेहरान एशियाई खेलों में डिस्कस में रजत पदक जीता अपने नाम किया था, इसके अलावा किंग्स्टन में 1966 राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक का पुरस्कार मिला था।

सोबती ने 1968 के मेक्सिको सिटी और 1972 के म्यूनिख ओलंपिक खेलों में भी भाग लिया, जहां उन्होंने क्रमश: अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ हैमर थ्रो (60.84 मीटर) और डिस्कस थ्रो (53.12 मीटर) में प्रदर्शन किया था।

एएफआई ने मंगलवार को ट्वीट किया, “एएफआई परिवार ओलंपियन और एशियाई खेलों के पदक विजेता श्री प्रवीण कुमार सोबती का 74 सालों में निधन से गहरे सदमे में है। वह बीआर चोपड़ा के महाकाव्य शो ‘महाभारत’ में ‘भीम’ की अपनी भूमिका के साथ वह हर घर में लोकप्रिय हो गए थे।”

एएफआई के अध्यक्ष आदिले जे. सुमरिवाला ने कहा कि भारतीय एथलेटिक्स ने सोबती के निधन से क्षति हुई है। वह आने वाले वर्षों के लिए एक प्रेरणा बने रहेंगे, क्योंकि वह एक एथलीट के एक महान उदाहरण हैं, जिन्होंने 11 वर्षों में अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, जिसमें उन्होंने उच्चतम स्तर पर प्रतिस्पर्धा की।”