पीरियड्स मीस होने के अलावा और भी हो सकते और कई लकक्षण

Pregnancy, Baby Belly, Woman, Baby

गर्भावस्था के लक्षण: जब एक महिला यौन रूप से सक्रिय होती है और एक महीने तक पीरियड्स मिस करती है, तो ये निश्चित रूप से गर्भावस्था के लक्षण हो सकते हैं। लेकिन आपको बता दें कि सिर्फ पीरियड्स का मिस होना ही प्रेग्नेंसी का लक्षण नहीं हो सकता है।

मेयोक्लिनिक के अनुसार इसके अलावा और भी कई लक्षण हैं जो गर्भावस्था का संकेत देते हैं। आज के समय में तमाम हार्मोनल प्रॉब्लम्स की वजह से पीरियड्स मिस होने की समस्या हो जाती है। ऐसे में पीरियड मिस होने पर ही प्रेग्नेंसी का अंदाजा लगाना भी गलत साबित हो सकता है। इसलिए आज हम आपको ऐसे ही गर्भावस्था के अन्य लक्षणों के बारे में बताएंगे जो पीरियड मिस होने के अलावा प्रेग्नेंसी का संकेत देते हैं।

गर्भावस्था के लक्षण

स्तन के आकार में अंतर

गर्भ धारण करने के एक या दो सप्ताह के भीतर ही हार्मोनल परिवर्तन के कारण स्तन में भारीपन का अहसास होने लगता है। गर्भावस्था का संकेत हो सकता है। इसे अनदेखा न करें। हालांकि, कुछ महीनों के बाद हार्मोनल परिवर्तन के कारण यह बेहतर हो जाता है। इसे गर्भावस्था का पहला लक्षण माना जा सकता है।

उल्टी

अगर आपको मॉर्निंग सिकनेस हो रही है या दिन-रात उल्टी जैसा महसूस हो रहा है, तो यह प्रेग्नेंसी का लक्षण हो सकता है। कई लोगों में यह लक्षण पहली तिमाही के बाद खत्म हो जाता है।

– टैम्पोन सेफ्टी टिप्स: क्या आप भी टैम्पोन का इस्तेमाल करते हैं? जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

अधिक पेशाब

गर्भावस्था के दौरान, शरीर अधिक रक्त बनाता है, जिसके कारण गुर्दे अधिक मात्रा में तरल पदार्थ को फिल्टर करते हैं। इस वजह से पेशाब ज्यादा आने की समस्या होती है।

थकान

शरीर में अचानक थकान महसूस होना भी गर्भावस्था का एक लक्षण हो सकता है। कभी-कभी आप थोड़ी देर बैठना चाहते हैं या काम करते समय थकान महसूस करते हैं।

– महिला मनोविज्ञान: महिलाओं को प्यार करने के बारे में 5 मनोवैज्ञानिक तथ्य

योनि स्थान

कई बार पीरियड खुलकर नहीं आता लेकिन वेजाइनल स्पॉट आ जाता है, जिससे महिला को लगता है कि वह प्रेग्नेंट नहीं है। लेकिन आपको बता दें कि योनि में धब्बे और ऐंठन भी गर्भावस्था का एक संकेत है।

मूड स्विंग्स होना

गर्भधारण के बाद शरीर में हार्मोनल बदलाव शुरू हो जाते हैं। ऐसे में उसे क्रोध, चिड़चिड़ापन या मिजाज की समस्या व्यर्थ हो सकती है।

शरीर का तापमान बढ़ना

गर्भावस्था के दौरान शरीर का तापमान थोड़ा अधिक रहता है। ऐसे में अगर आप परिवार बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं तो रोजाना अपना तापमान लें और लिखें। अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपके शरीर का तापमान बढ़ जाएगा।