पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की पुलिस पर ड्यूटी के दौरान टिक टॉक के प्रयोग पर लगी रोक

टिक टॉक की दीवानगी के चलते इसे कई देशों में प्रतिबंधित कर दिया गया है। ताजा कड़ी में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की पुलिस पर ड्यूटी के दौरान इसका प्रयोग करने पर रोक लगा दी गई है। टिक टॉक चीन का शार्ट वीडियो एप है।

स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक पंजाब पुलिस डिपार्टमेंट का कोई भी कर्मी अपनी ड्यूटी के समय अब इस एप का इस्तेयमाल नहीं कर सकेगा। इस बाबत पुलिस विभाग की तरफ से सख्ती दिशा निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। इसमें सभी पुलिसकर्मियों को चेतावनी दी गई है कि यदि इस एप पर किसी भी पुलिसकर्मी का वीडियो पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

इस संबंध में पंजाब की प्रांतीय पुलिस की तरफ से सभी एआईजी आपरेशंस को भी एक पत्र जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि सोशल मीडिया और शार्ट वीडियो एप टिक टॉक पर पुलिसकर्मियों के वीडियो वायरल होने की वजह से पुलिस की छवि पर बुरा असर देखा जा रहा है। रिपोर्ट्स में कहा गया है कि पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) की तरफ से पहले भी कई बार इसको देश में कई जगहों पर बंद किया गया है।

इससे पहले वर्ष 2020 में पहली बार पाकिस्तान में टिक टॉक पर प्रतिबंध लगाया गया था। हालांकि दस दिनों के बाद ही प्रतिबंध हटा लिया गया। चीन के इस शार्ट वीडियो एप टिक टॉक को अमेरिका और भारत समेत दुनिया के कई देशों में प्रतिबंधित किया जा चुका है।