दिल्ली: आतंकी खतरे के बीच मेट्रो में बढ़ाई गई सुरक्षा, तैनात किए गए CISF के कमांडो

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) आतंकियों (Terrorists) के निशाने पर है. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के मौके पर आतंकी हमले की फिराक में रहते हैं. खुफिया एजेंसियां भी लगातार अलर्ट कर रही हैं. अलर्ट को देखते हुए हमारी सुरक्षा एजेंसियां कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती हैं. दिल्ली (Delhi) की लाइफ लाइन मेट्रो (Metro) में भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

बड़ी संख्या में यात्री मेट्रो में करते हैं सफर

दिल्ली का दिल कनॉट प्लेस का राजीव चौक मेट्रो स्टेशन, जहां रोज लाखों की तादाद में यात्री सफर करते हैं. ये मेट्रो स्टेशन इसलिए भी खास हैं क्योंकि यहां से कई मेट्रो लाइन की कनेक्टविटी है. यहां कोविड के साथ सुरक्षा के लिहाज से मेटल का सामान पॉकेट से बाहर निकालने के लिए लाउडस्पीकर से अनाउंसमेंट किया जा रहा है.

प्लेटफॉर्म पर भी कमांडो हुए तैनात

सीआईएसएफ (CISF) के सीनियर कमांडेंट ने बताया कि सुरक्षा और कोविड के नियमों की वजह से यात्रियों की लंबी कतार लग रही है क्योंकि कुछ गेट पर ही एंट्री दी जा रही है. प्लेटफॉर्म पर भी CISF के हथियार से लैस कमांडो तैनात हैं. ये कमांडो प्लेटफॉर्म पर लगातार गश्त करते रहते हैं.

ऊंचाई से भी दिया जा रहा है पहरा

वहीं संदिग्ध पर नजर रखने के लिए ऊंचाई से भी पहरा दिया जा रहा है ताकि किसी भी तरह की अनहोनी को टाला जा सके. अगर मेट्रो में कोई संदिग्ध वस्तु नजर आती है तो उसके लिए डॉग स्क्वॉयड को भी लगाया गया है. मॉक ड्रिल के दौरान डॉग ने बैग को डिटेक्ट किया.

दिल्ली मेट्रो में और मेट्रो से बाहर पूरी दिल्ली में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा को इतना पुख्ता किया गया है कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता है इसलिए जमीन से लेकर आसमान तक सुरक्षा को भेद पाना आतंकियों के लिए नामुकिन हैं.