ज्यादा एडल्ट फिल्मे देखने से हो सकती है ये खतरनाक समस्याएँ

नई दिल्लीः क्या आप भी उन पुरुषों में से हैं जो सबसे ज्यादा एडल्ट फिल्में देखते हैं या जिन्हें एडल्ट फिल्में देखने की लत है. अगर हां तो आपको ये खबर पढ़नी चाहिए. हाल ही में आई रिसर्च के मुताबिक, यदि आप अपनी बेडरूम लाइफ को एन्जॉय नहीं कर पा रहे हैं या फिर आपकी बेडरूम परफॉर्मेंस खराब हो रही है तो इसमें आपका नहीं बल्कि एडल्ट फिल्मों का दोष है.ब्रिटेन में एक यौन स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार, सिंगल या तलाकशुदा पुरुषों को इरेक्टाइल डिसफंक्शन (उत्तेजना में कमी) से पीड़ित होने की अधिक संभावना अधिक होती है, क्योंकि वे बहुत अधिक एडल्ट फिल्में देखने में अभ्यस्त हो चुके होते हैं या वे बहुत असंतोषजनक यौन जीवन जीते हैं.

लंदन स्थित क्लिनिक न्यूमन की एक रिपोर्ट में पाया गया है कि ब्रिटेन में रहने वाले 80 प्रतिशत पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या से गुजरना पड़ा है.फीमेल रिपोर्ट पर महिलाओं के कॉलम में चार्टर्ड साइकोलॉजिस्ट फेलिक्स इकोनॉमिस्टो ने कहा है सिंगल और तलाकशुदा पुरुषों के बेडरूम में समस्याएं पैदा करने के लिए अश्लील साहित्य और शराब सबसे अधिक जिम्मेदार है.डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, इरेक्टाइल डिसफंक्शन से लाखों पुरुष प्रभावित होते हैं. मार्केट रिसर्च सोसाइटी द्वारा की गई रिसर्च में यूके में 1,000 तलाकशुदा पुरुषों से यौन प्रदर्शन की समस्या के बारे में पूछा गया. इनमें से चार-चौथाई पुरुषों ने लोगों ने स्वीकार किया कि वे इरेक्टाइल डिसफंक्शन से जूझ चुके थे.

चार्टर्ड साइकोलॉजिस्ट फेलिक्स इकोनॉमिस्टो ने कहा कि यदि पुरुष अपने लक्ष्य या काम में फेल हो जाते हैं तो यह सेक्स के दौरान उनके प्रदर्शन को भी प्रभावित कर सकता है. उन्होंने कहा कि कभी-कभी पुरुष काम और लक्ष्यों में फेल होने के बारे में इतना ज्यादा सोचना शुरू कर देते हैं, जिससे उनकी बेडरूम परफॉर्मेंस भी हावी हो जाती है. इतना ही नहीं, जो पुरुष बहुत ज्यादा अश्लील सामग्री देखने और पढ़ने लगते हैं, वे भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन का शिकार आसानी से हो सकते हैं.