जमीन खरीदने से पहले देख लें ये सब चीजें

हर इंसान अपने जीवन की मूलभूत इकाइयां पूरा करना चाहता है। वह चाहता है जीवन में उसका खुद का मकान हो, वह और उसका परिवार खुद की छत के नीचे अपना जीवन-यापन करें। हर तरफ खुशहाली होगी और भी बहुत से सपने मन में संजोये रहते हैं लेकिन इसलिए इन सब परेशानी से छुटकारा पाने के लिए जरूरी है की आप कुछ बाते जान ले।
कैसे पहचानें शुभ जमीन:
# भूमि पर एक गहरा गड्ढा खोद लें। यह कम से कम एक हाथ गहरा अवश्य हो। अब उस गड्ढे को वापस खोदी गई मिट्टी से भर दें। यदि गड्ढा पूरा भर जाए और थोड़ी मिट्टी बच जाए, तो ऐसी भूमि पर निवास करने वाला व्यक्ति हर तरह से सुख समृद्धि से परिपूर्ण जीवन जीता है।
# यदि गड्ढा भरने में पूरी मिट्टी लग जाए और गड्ढा पूरी तरह से पहले जैसा भर जाए, तो ऐसी भूमि भी रहने के लिए श्रेष्ठ है। यह संतुष्ट भूमि कहलाती है। ऐसी भूमि पर निवास करने वाले के जीवन में कमियां नहीं आती, वह सुखी, संतुष्ट जीवन जीता है।
# यदि गड्ढे में खोद कर निकाली गई पूरी मिट्टी भर जाए और फिर भी वह पहले की तरह समतल ना हो, तो ऐसी भूमि बुभुक्षित या भूखी भूमि कहलाती है। ऐसी भूमि पर भूलकर भी मकान का निर्माण नहीं करना चाहिए।