गूगल क्रोम ब्राउजर के बग्स से बचने के लिए तुरंत करें अपडेट; जानिए कैसे

आप अपने कम्प्यूटर या लैपटॉप पर गूगल क्रोम इस्तेमाल करते हैं, तब उसे तुरंत अपडेट कर लीजिए। गूगल ने क्रोम ब्राउजर के लिए नया अपडेट रोल आउट किया है। उसने सभी यूजर्स से इस अपडेट को तुरंत इंस्टॉल करने की अपील भी की है। गूगल के मुताबिक, इस अपडेट से क्रोम के 11 सिक्योरिटी इश्यू ठीक हो जाएंगे। क्रोम अपडेट होन के बाद वर्जन 98.0.4758.102 (64-बिट) हो जाएगा।

गूगल ने क्रोम में कुछ बग्स का पता लगाया है। इनमें से एक को जीरो-डे रेटिंग दी गई है। इस वजह से गूगल ने यूजर्स से इसे तुरंत अपडेट करने की अपील की है। ताकी यूजर्स को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचे। दुनियाभर में 320 करोड़ यूजर्स क्रोम का इस्तेमाल कर रहे हैं।

जीरो-डे की असुरक्षा क्या होती है?
जीरो-डे एक प्रकार की कम्प्यूटर-सॉफ्टवेयर असुरक्षा है। जिसका हैकर्स द्वारा आसानी से फायदा उठा सकते हैं। किसी भी असुरक्षा का हैकर्स को पता होने पर जीरो-डे की रेटिंग दी जाती है। इसका सक्रिय रूप से फायदा उठाया जा रहा है। इससे बचने के लिए यूजर्स को अपने क्रोम और सिस्टम को लगातार अपडेट रखना जरूरी हो जाता है।

क्रोम अपडेट होन के बाद वर्जन 98.0.4758.102 (64-बिट) हो जाएगा

क्रोम अपडेट होन के बाद वर्जन 98.0.4758.102 (64-बिट) हो जाएगा

गूगल क्रोम ब्राउजर को अपडेट करने की प्रोसेस

अपने डिवाइस पर गूगल क्रोम ब्राउजर को ओपन करेंटॉप राइट में दिए गए तीन-डॉट आइकन पर टैप करेंहेल्प पर जाकर About Google Chrome पर जाएंनई विंडो में यूजर क्रोम ब्राउजर के मौजूदा वर्जन को देख पाएंगेयहां अपडेट मिल रहा है तब उस पर क्लिक करके अपडेट कर लें

क्रोम ऐप को भी अपडेट रखें
क्रोम ब्राउजर ऐप को iOS और एंड्रॉयड डिवाइस पर एप्पल ऐप स्टोर और गूगल प्ले स्टोर से अपडेट किया जा सकता है। गूगल ने हाल ही में क्रोम ब्राउजर के लिए एक नए ट्रेवल फीचर की घोषणा की है जो आपके ब्राउजिंग हिस्ट्री को व्यवस्थित करने में आपकी सहायता कर सकता है। नए फीचर का सब्जेक्ट या कैटेगरी के आधार पर आपके द्वारा देखी गई साइटों का ग्रुप बनाती है।