Thursday, November 30

कोरोना के बढ़ते मामलो के बीच देश में तेज हुई वैक्‍सीनेशन की रफ्तार, 158 करोड़ के पार पहुंची

देश में जारी कोरोना की तीसरी लहर का केंद्र और राज्‍य सरकार डटकर सामना कर रही हैं. दोनों ने अपने-अपने स्‍तर पर इससे न‍िपटने के ल‍िए वैक्‍सीनेशन की रफ्तार बढ़ा दी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 17 जनवरी 2022 तक देशभर में 158 करोड़ 4 लाख 41 हजार कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं. सोमवार को 79.91 लाख लोगों को टीके लगाए गए. वहीं भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, अबतक करीब 70.54 करोड़ कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं. सोमवार को 16.49 लाख कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए, जिसमें पॉजिटिविटी रेट 14 फीसदी से ज्यादा दर्ज किया गया है.

पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 2,38,018 नए मामले आए और 1,57,421 रिकवरी हुईं. कल कोरोना के 2.5 लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गए थे, जिससे आंकड़ा अब कम होकर 2.5 लाख से नीचे आ गया है. कोविड-19 के 2,38,018 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना वायरस के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3.7 करोड़ हो गई है. संक्रमण के कुल मामलों में कोरोना वायरस के ‘ओमिक्रॉन’ वेरिएंट के 8,891 मामले भी शामिल हैं.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में 29 राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में अभी तक कोरोना वायरस के ‘ओमि‍क्रॉन’ वेरिएंट के 8,891 मामले सामने आए हैं. हालांकि, राहत की बात ये है कि आईसीयू में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या काफी कम है. विशेषज्ञों के अनुसार, हरेक संक्रमित के नमूनों का जीनोम अनुक्रमण मुमकिन नहीं है, लेकिन इस मौजूदा लहर में अधिकतर मामले ‘ओमीक्रॉन’ के ही हैं.

एक्‍ट‍िव मामलों की संख्‍या 17 लाख के पार

देश में कोविड-19 के एक्‍ट‍िव मरीजों की संख्या बढ़कर 17,36,628 हो गई है. प‍िछले 24 घंटे में 310 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,86,761 हो गई है. देश में अभी तक कुल 3,53,94,882 लोग इस वायरस को मात दे चुके हैं. देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.29 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 94.09 फीसदी है. एक्टिव केस 4.62 फीसदी हैं. कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत अब छठे स्थान पर प‍हुंच गया है. इस मामले में सबसे ऊपर अमेरिका है, जहां एक्‍ट‍िव लोगों की संख्‍या 2.3 करोड़ से ज्‍यादा है.