कैल्शियम की कमी होती है? और आपको दूध पसंद नहीं है तो इन चीजों का करें इस्तेमाल

दूध कैल्शियम से भरपूर होता है लेकिन कुछ लोग दूध से दूर रहते हैं. कुछ लोगों को स्वाद पसंद होता है। क्या ऐसा करने वालों में कैल्शियम की कमी होती है? नहीं यह नहीं। प्रकृति हमें हर चीज से बदल देती है। बस उसे पहचानने की जरूरत है। इसी तरह दूध के भी कई विकल्प हैं। आइए जानते हैं उन पदार्थों के बारे में।

हरी पत्तेदार सब्जियां – अगर आप दूध नहीं पीते हैं तो टेंशन की कोई समस्या नहीं होती है. अपने आहार में हरी सब्जियों को शामिल करें। ये चीजें कैल्शियम से भरपूर होती हैं। सरसों, चाय, ब्रोकली, पालक, पत्ता गोभी आदि सब्जियां आपको भरपूर पोषण देंगी।

मेवा – अखरोट , बादाम, पिस्ता, चिलगोजा और काजू सभी खाने में स्वादिष्ट होते हैं. ये कैल्शियम से भरपूर होते हैं। इनके सेवन से हड्डियों को मजबूती मिलती है।

मछली – कांटेदार मछली कैल्शियम और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होती है।

बीन्स – बीन्स को पोषक तत्वों का भंडार कहा जाता है। इसमें प्रोटीन, फाइबर और अन्य जरूरी तत्व होते हैं।

अंजीर – क्या आपने कभी अंजीर का स्वाद चखा है? खाने में बड़ा मजा आता है। यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है। अंजीर में शहद और मेवा मिलाकर खाने से स्वाद और भी बढ़ जाता है।

गुड़ – गुड़ में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप कैल्शियम के नाम पर गुड़ खाते रहें। आप खाने के बाद गुड़ खा सकते हैं।

पपीता – पपीते में कैल्शियम भी अच्छी मात्रा में होता है। रोजाना खाने से कैल्शियम की कमी पूरी हो जाती है। मटर, दाल- दालें प्रोटीन का स्रोत मानी जाती हैं। दालें हमारे आहार का मुख्य हिस्सा हैं। मटर और दाल भी कैल्शियम से भरपूर होते हैं। यह बनाने में भी आसान है और स्वाद में भी अच्छा है।

बीज – तिल और सूरजमुखी के बीजों में कैल्शियम होता है। तिल का सेवन शरीर के लिए अच्छा माना जाता है। हालांकि, कुछ लोग गर्मियों में इसका इस्तेमाल करने की सलाह नहीं देते हैं।

भिंडी – भिंडी में कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व भी होते हैं। ताजा खाने पर इसका स्वाद अच्छा लगता है। 100 ग्राम भिंडी में 81 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।

संतरे का रस – संतरे का रस हड्डियों और दांतों को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।