किताबी ज्ञान बहुत हो गया, अब जानिए जमीनी हकीकत, किस कार में है फायदा

CNG VS Petrol VS Hybrid: पेट्रोल और डीजल कारों के लिए बदलते नियमों को देखते हुए लोग अब वैकल्पिक ईंधन की ओर बढ़ रहे हैं और अब इलेक्ट्रिक कारों का चुनाव कर रहे हैं। और सरकार भी साथ देती है। 

लेकिन फिर भी कुछ कमियों के चलते लोग अभी भी इलेक्ट्रिक कारों को पसंद नहीं कर रहे हैं। इसलिए लोग सीएनजी और हाईब्रिड कारों का चुनाव कर रहे हैं। साथ ही पेट्रोल कारों के दाम भी कम नहीं हुए हैं। अब यह जानना जरूरी है। सीएनजी और हाइब्रिड कारों के बीच अंतर जानना भी महत्वपूर्ण है, खासकर जब से दोनों कारें पेट्रोल इंजन आधारित हैं। तो चलिए आज पता करते हैं कि तीनों में से कौन सी कार आपका विकल्प हो सकती है।

सीएनजी कारों के फायदे और नुकसान
सीएनजी कारों का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह सस्ती तकनीक है। सीएनजी कार आम तौर पर अन्य कारों की तुलना में अधिक महंगी होती हैं।
सीएनजी कारें सबसे ज्यादा माइलेज देती हैं। इसका कारण यह है कि इसका पूर्ण दहन होता है।सीएनजी
की कीमत पेट्रोल की तुलना में कम होती है। इसलिए ड्राइविंग सस्ता है। 
अब बात करें डिफेक्ट की तो सीएनजी कारों का मेंटेनेंस दूसरी कारों के मुकाबले ज्यादा होता है। 
हालांकि, चूंकि सीएनजी और पेट्रोल की कीमत में ज्यादा अंतर नहीं है, इसलिए सीएनजी पहले की तरह सस्ती नहीं है। 
सीएनजी कारों से हादसों का खतरा बढ़ जाता है। इससे लीकेज की संभावना बढ़ जाती है। और आग भी लग सकती है। 
सीएनजी कारों में कम शक्ति होती है। पेट्रोल और हाइब्रिड कारों की तुलना में इस कार की पिकअप और टॉप स्पीड कम है। 
सभी शहरों में सीएनजी स्टेशन नहीं होने से भारी नुकसान होता है। 

हाइब्रिड कारों के फायदे और नुकसान
यह एक बेहतरीन तकनीक है जो पेट्रोल इंजन को भी इलेक्ट्रिक पावर देती है। हाइब्रिड कारें अधिक शक्तिशाली और प्रदर्शन संचालित होती हैं। इन कारों का टॉर्क और बीएचपी पेट्रोल और सीएनजी की तुलना में अधिक है। 
हाइब्रिड कार का रखरखाव पेट्रोल कार के समान ही होता है। 
हाइब्रिड कारों को चार्ज करने की जरूरत नहीं होती है। हालाँकि, प्लग-इन हाइब्रिड कारें भी हैं जिन्हें चार्ज करने की आवश्यकता होती है। लेकिन ये कारें इलेक्ट्रिक मोड पर भी चल सकती हैं। 
हाइब्रिड कारों का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि तकनीक महंगी होती है। हाइब्रिड कारों की कीमत ज्यादा होती है। 
यदि बैटरी पैक या मोटर विफल हो जाती है, तो मरम्मत की लागत अधिक होती है। 
पेट्रोल कारों की तुलना में हाइब्रिड कारों का माइलेज बेहतर होता है। हालांकि सीएनजी कारों का माइलेज सबसे ज्यादा होता है।

 

पेट्रोल कार के फायदे और नुकसान
पेट्रोल कार का सबसे बड़ा फायदा इसकी कीमत है। पेट्रोल कारें सीएनजी और हाइब्रिड कारों दोनों से सस्ती हैं।
सीएनजी कार की तुलना में पेट्रोल कार में अधिक शक्ति होती है।
पेट्रोल कारों का रखरखाव कम होता है। 
पेट्रोल कारों का सबसे बड़ा नुकसान माइलेज है। पेट्रोल कार का माइलेज दूसरी कारों के मुकाबले कम होता है। 
पेट्रोल कारें अब पुरानी तकनीक हैं। इसे लगातार बदला जा रहा है। जिससे कार का इंजन जल्द ही पुराना हो जाता है। 
सीएनजी और हाइब्रिड कारों की तुलना में पेट्रोल कारें अधिक प्रदूषित करती हैं।