कंडोम बनाने वाली कंपनी का आईपीओ आज से खुला, जानिए कितना है प्राइस बैंड और क्या है ग्रे मार्केट प्रीमियम

Mankind Pharma IPO: मैनकाइंड फार्मा का आईपीओ आने वाला है। मैनकाइंड फार्मा का आईपीओ मंगलवार, 25 अप्रैल, 2023 को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा और 27 अप्रैल, 2023 तक खुला रहेगा। रु. 4326.36 करोड़ रुपये का यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) है। मैनकाइंड फार्मा ने रुपये का आईपीओ प्राइस बैंड तय किया है। 1026 से रु। 1080 तय किया गया है। आईपीओ के एक लॉट में 13 शेयर होंगे।

आईपीओ खुलने से पहले ही रु. 90 प्रीमियम

मैनकाइंड फार्मा का आईपीओ अभी खुला नहीं है, लेकिन ग्रे मार्केट में इसके शेयरों को जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है। बाजार के जानकारों के मुताबिक ग्रे मार्केट में कंपनी के शेयर 90 रुपए के प्रीमियम पर कारोबार कर रहे हैं। अगर मैनकाइंड फार्मा को रु। 1,080 ऊपरी मूल्य बैंड और रुपये पर आवंटित किया गया है। 90 का प्रीमियम जारी है, तो कंपनी का शेयर रु. 1,170 लिस्ट हो सकते हैं।

कंपनी के शेयर मई को बाजार में लिस्ट हो सकते हैं ।

 

मैनकाइंड फार्मा के आईपीओ में शेयरों का आवंटन 3 मई 2023 तक हो सकता है। कंपनी के शेयर 8 मई 2023 को बीएसई और एनएसई पर लिस्ट हो सकते हैं। मैनकाइंड फार्मा के आईपीओ में खुदरा निवेशक न्यूनतम 1 लॉट के लिए आवेदन कर सकते हैं। वहीं, अधिकतम 14 लॉट के लिए आवेदन जमा किए जा सकते हैं। एक लॉट की कीमत 14,040 रुपए होगी। वहीं, 14 लॉट के लिए निवेशकों ने रु. 196,560 का भुगतान करना होगा। मैनकाइंड फार्मा के पास चिकित्सा प्रतिनिधियों का एक व्यापक नेटवर्क है।

कंपनी ने कहा कि कुल 1.2 करोड़ शेयरों को एंकर निवेशकों को ऊपरी मूल्य बैंड यानी प्रति शेयर रुपये की पेशकश की जाएगी। 1,080 आवंटित किए गए हैं। एंकर इश्यू के जरिए मैनकाइंड फार्मा के आईपीओ में कुल 77 निवेशकों ने निवेश किया है।

मैनकाइंड फार्मा ने अपने आईपीओ के जरिए करीब 4 करोड़ शेयर बिक्री के लिए रखे हैं। आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) पर है और कंपनी कोई नया शेयर जारी नहीं कर रही है। इसका मतलब है कि सभी शेयर कंपनी के प्रमोटरों और मौजूदा शेयरधारकों द्वारा बिक्री के लिए रखे गए हैं।

ओएफएस के तहत रमेश जुनेजा, राजीव जुनेजा और शीतल अरोड़ा समेत कंपनी के प्रमोटर कुल 1 करोड़ से ज्यादा शेयर बेचेंगे। शेष शेयरों को केयर्नहिल सीआईपीईएफ, केयर्नहिल सीजीपीई, बीज और लिंक इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट जैसे निवेशकों द्वारा बिक्री के लिए रखा जाएगा।

प्रति शेयर रु. 1,080 के ऊपरी मूल्य बैंड के आधार पर, कंपनी अपने आईपीओ से लगभग रु। 4,326.35 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है।