ऐसे लोगों को शादी के बाद भी नहीं मिलता पार्टनर का सुख

नई दिल्ली: हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक हथेली की रेखाओं से भविष्य की जानकारी मिलती है. हथेली की रेखाओं और हाथ की बनावट के आधार पर इंसान के व्यक्तित्व और स्वभाव का पता लगाया जाता है. हथेली की रेखाओं में परिवर्तन होते रहते हैं. इसके अलावा कई लोगों की हथेली में तिल के निशान भी होते हैं. हथेली के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद तिल अलग-अलग बहुत कुछ बताते हैं. जानते हैं कि हथेली के विभिन्न पर्वतों पर तिल क्या संकेत देते हैं.

-हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार हथेली के शुक्र पर्वत पर तिल अशुभ है. जिन लोगों की हथेली में शुक्र पर्वत पर तिल का निशान होता है, उनके विचरों में शुद्धता नहीं रहती है. ऐसे लोग किसी एक बात पर स्थिर नहीं रहते हैं.

-अगर हथेली में चंद्र पर्वत पर तिल है तो ऐसे में व्यक्ति को सावधान रहना चाहिए. ऐसे लोगों को तालाब, नदी या समुद्र में नहाते वक्त बिलकुल सावधान रहना चाहिए.

-हथेली के गुरु पर्वत पर तिल का होना अशुभ माना गया है. जिनकी हथेली में गरु पर्वत पर तिल का निशान होता है, उनकी शादी देर से होती है. ऐसे लोगों को विवाह के बाद भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इसके अलावा मेहनत के बावजूद की उचित सफलता नहीं मिलती है.

-शनि पर्वत पर तिल का निशान भी अशुभ माना जाता है. ऐसे लोगों को विवाह में विलंब होता है. साथ ही शादीशुदा जिंदगी में संतोष की कमी होती है. लाइफ पार्टनर से बात-बात पर विवाद होता रहता है.

-सूर्य पर्वत पर तिल का निशान होने से इंसान को समाज में अपमान का सामना करना पड़ता है. वहीं अगर तिल का निशान बुध पर्वत पर हो तो अचानक नुकसान हो सकता है.