आईएसएल फुटबॉल: बेंगलुरू FC ने चेन्नइयन FC को हराया

गोवा, 27 जनवरी । साउथ इंडियन डर्बी में बेंगलुरू एफसी ने फिर से चेन्नइयन एफसी के खिलाफ श्रेष्ठता की जंग जीत ली है। उदांता सिंह के दो गोल के दम पर बेंगलुरू एफसी ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2021-22 में अपनी दूसरी भिड़ंत में चेन्नइयन एफसी को 3-0 से हरा दिया।

बुधवार रात को बैम्बोलिन स्थित जीएमसी एथलेटिक स्टेडियम में खेले गए सदर्न डर्बी मुकाबले में दो गोल करने और बेंगलुर के हमलों को धार देने के लिए उदांता को हीरो ऑफ द मैच अवार्ड से नवाजा गया। बेंगलुरू के युवा गोलकीपर लारा शर्मा कुछ शानदार बचाव करके क्लीन शीट अपने नाम रखने में सफल रहे।

चौथी जीत से बेंगलुरू आठवें से छलांग लगाकर छठे स्थान पर पहुंच गई है। कोच मार्को पेज्जौउली की टीम के 13 मैचों में 17 अंक हो गए हैं। उसने चार मैच जीते हैं और पांच ड्रा खेले हैं। वहीं, आज पांचवीं हार के बाद चेन्नइयन चौथे से लुढ़कर पांचवें स्थान पर आ गई है। कोच बोजिदार बांदोविक की टीम 13 मैचों पांच जीत और तीन ड्रा से 18 अंक जुटा चुकी है।

मैच का पहला गोल 12वें मिनट में आया, जब पेनल्टी किक के रूप में मिले सुनहरे अवसर को ईरानी डिफेंसिव मिडफील्डर ईमान बसाफा ने गोल में तब्दील करके बेंगलुरू एफसी को 1-0 से आगे कर दिया। बेंगलुरू के यह सुनहरा मौका एक कॉर्नर किक के दौरान उस समय मिला, जब बॉक्स के अंदर कप्तान सुनील छेत्री गेंद जीतते नजर आ रहे थे और उन्हें पीछे से गिराकर चेन्नइयन के मिडफील्डर एडविन वांसपॉल ने फाउल कर दिया। रैफरी प्रतीक मंडल ने पेनल्टी किक देने में कोई देरी नहीं की और बसाफा ने करारा राइट फुटर शॉट लगाकर गेंद को बायीं तरफ गोलजाल में उलझा दिया जबकि गोलकीपर देबजीत मजूमदार गलत अनुमान करके विपरीत दिशा में डाइव लगा बैठे। 42वें मिनट में फॉरवर्ड उदांता सिंह ने गोल करके बेंगलुरू की बढ़त 2-0 कर दी। अपने हाफ में चेन्नइयन के मिडफील्डर एडविन वांसपॉल के गलत पास को लेकर उदांता हाफलाइन से तेजी आगे दौड़े और बॉक्स के अंदर सुनील छेत्री को पास दिया लेकिन कप्तान ने अपने आगे चेन्नइयन के चार डिफेंडरों औऱ फिर गोलकीपर देबजीत को छकाकर अपने बायीं तरफ गेंद हल्के से बढ़ाकर उदांता को खुला पोस्ट दे दिया।

इस पास से चेन्नइयन की डिफेंस नेस्तनाबूद हो गई और फिर बना हलुआ मौका, जिसको उदांता ने राइट फुटर शॉट लगाकर गोल में तब्दील कर दिया। 52वें मिनट में उदांता ने मैच में अपना दूसरा गोल करके बेंगलुरू की बढ़त को 3-0 कर दिया। उन्होंने बॉक्स के अंदर अपने साथ लगे डिफेंडर मोहम्मद साजिद धोत की गलती का फायदा उठाया। एक लम्बे थ्रू पास पर गेंद दोनों के बीच थी लेकिन साजिद गेंद को क्लीयर नहीं कर सके और उदांता ने उन्हें छकाने के बाद अपने कुछ टचों से गोलकीपर देबजीत को भी कोई अवसर नहीं दिया और फिर लेफ्ट फुटर लगाकर गोल कर दिया। दोनों टीमों के बीच सीजन के दोनों मुकाबले बेंगलुरू ने जीत लिए हैं। क्योंकि पहले चरण में पिछली बार जब ये दोनों दक्षिण भारतीय प्रतिद्वंद्वी आपस में भिड़े थे, तो बेंगलुरू ने उच्च स्कोर वाले मुकाबले में 4-2 से जीत हासिल की थी।